Blog


क्या दौड़ने से होती है डिप्रेशन जैसी समस्या दूर? जानिए इससे जुड़े कुछ फायदे जो डिप्रेशन की समस्या को कम करे

क्या दौड़ने से होती है डिप्रेशन जैसी समस्या दूर? जानिए इससे जुड़े कुछ फायदे जो डिप्रेशन की समस्या को कम करे

May 28, 2024

94 Views

डिप्रेशन क्या है ?

डिप्रेशन या अवसाद व्यक्ति की वह स्थिति है जहां हर समय व्यक्ति को किसी बात की चिंता रहता है या किसी बात का डर उसे मन को सताता  है | डिप्रेशन की समस्या से क़ई लोगों की ज़िंदगी पर भी बुरा असर हुआ है | कोरोना जैसे महामारी के बाद भी लोगो में मानसिक समस्या जैसे की हर वक़्त तनाव में रहना, किसी बात का डर रहना, हर वक़्त चिंता में रहना, चिड़चिड़ापन में रहना, किसी से ज्यादा बात ना करना, एंग्जायटी आदि जैसे लक्षण भी व्यक्ति को  डिप्रेशन की और धकेलता है | इसे एक तरह मेटल डिसॉडर भी कहा जाता है और इस समस्या को कभी हलके में नहीं लेना चाहिए | अवसाद की समस्या से कभी-कभी व्यक्ति को आत्महत्या करने का मन भी करता और कभी-कभी खुद को शारीरिक रूप से भी हानि पहुंचता है | यह समस्या बढ़ने से सिर्फ व्यक्ति के मानसिक स्थिति में ही नहीं, बल्कि शारीरिक रूप पर भी काफी  बुरा असर पड़ता है | अगर आप इस समस्या से झुज रहे है तो आपको एक नियमित रूप में दौड़ना शुरू कर देना चाहिए |आइये जानते है इससे जुड़े कुछ फायदे,

दौड़ने के फायदे जो दूर करे अवसाद जैसे समस्या :- 

  1. अपनी रोज़ाना जैनशाली में प्रतिदिन दौड़ लगाने से कई तरह के हैप्पी हार्मोन्स और डोपामाइन का विकास होता है | दौड़ने से कोलेस्ट्राल जैसे समस्या भी कम होती है | अगर आप इस समस्या से जूझ रहे है तोह कोशिश करे ज़्यादा से ज़्यादा खुद को खुश रखें | यह आपके एंग्जायटी लेवल को कम करने में भी सहायता करती है | 

यदि आपके डिप्रेशन का लेवल बढ़ गया है और आपको बार-बार सुसाइड करने के ख्याल आ रहे है तो आपको डॉक्टर के पास जा के इलाज करवाना ही सही रहेगा | इससे जुडी सलाह या इलाज के लिए आप मानस हॉस्पिटल  जिनके पास साइकोलोजिस्ट एक्सपर्ट की बेहतरीन टीम है, उनसे भी ले सकते है, क्योंकि इस समस्या का सही समय पर इलाज करवाना बेहद ज़रूरी है | 

  1. टहलना, सैर करना या जॉगिंग करना यह तीनो ही आपके शरीर के लिए फायदेमंद है | कई बार डिप्रेशन और एंग्जायटी की वजह से नींद ना आने की समस्या हर वक्त रहती है | रोज़ाना एक नियमित रूप में दौड़ लगाने से आपके मानसिक तनाव को कम किया जा सकता है और नींद भी पूरी आती है | 
  2. कभी- कभी व्यक्ति में खुद की पर्सनालिटी को लेकर भी काफी चिंता में डूबे रहते है | लोग क्या सोचेंगे , आपके कपड़ो पर लोग क्या बोलेंगे, यह डर उनके मन में हमेशा रहता है | इसलिए आप जैसे भी है वैसे ही बेहद खूबसूरत है | इसलिए किसी की बात को लेकर इतना स्ट्रेस ना ले, डेली कसरत करे दौड़ लगाए, जिससे आपका मूड़ रिफ्रेश रहेगा और डिप्रेशन जैसे समस्या भी कम होएगी | 
  3. रोज़ाना कसरत और दौड़ लगाने  से आपके मूड को रिफ्रेश हो जाता  है और मानसिक के तनाव को भी कम करने में सहयता करता है | इसकी वजह कई तरह के हैप्पी हार्मोन का निर्माण होता है, जो आपके मूड को अच्छा बना देता है और मूड स्विंग भी कम होता है |