Blog


नशा-मुक्ति-के-उपायों-को-अपनाकर-पाए-खुशहाल-जीवन-!

मानस अस्पताल नशा मुक्ति केंद्र के उपायों को अपनाकर पाएं खुशहाल जीवन !

June 16, 2023

630 Views

आज के समय की बात की जाए तो हर 10 में से 8 व्यक्ति के घर में कोई न कोई  नशा करने वाला जरूर से मिलेगा और हैरानी वाली बात ये है की युवाओ में ये परेशानी सबसे ज्यादा देखने को मिल रही है। इसके अलावा नशा करने की वजह से व्यक्ति न केवल अपना जीवन बर्बाद करता है बल्कि उसके साथ जो भी जुड़ा होता है उनका भविष्य भी दाव पर लगा होता है। 

इसके अलावा आज का लेख भी हम खास इसलिए बना रहे है, ताकि जो भी व्यक्ति नशे में पड़ चुके है उसे हम आसानी से बाहर निकाल सके। इसलिए अगर आपके परिजनों में से कोई भी इस लत का शिकार हो चूका है तो उसको कैसे बाहर निकाले इसके बारे में सोच रहें है तो आर्टिकल को अंत तक जरूत से पढ़े ; 

व्यक्ति नशें की लत में क्यों पड़ता है ?

  • लत लगने की वजह कोई सटीक नहीं है, लेकिन हां अगर परिवार में कोई नशा करता है तो परिवार के दूसरे सदस्यों खासकर बच्चों में भी नशे की लत की आशंका बढ़ जाती है। 
  • पहले नशे की लत को व्यक्ति परिवार से सीखता है और दूसरा वो समाज से भी सीखता है की समाज में लोग कैसे नशे कर रहे है।
  • वही मानसिक रूप से परेशान होने की वजह से भी व्यक्ति नशे की लत में पड़ता है। 

अगर आप मानसिक रूप से परेशान होने की वजह से नशे की लत में पड़ चुके है तो इससे निजात पाने के लिए आपको बिना समय गवाए मानसिक रोग विशेषज्ञ पंजाब का चयन करना चाहिए।

नशे की लत से व्यक्ति को कैसे करना चाहिए खुद का बचाव ?

  • नशा करने वाले समूह से जितना हो सके बचें।
  • साथी समूह के दबाव में कभी न आएं।
  • जीवन में न कहने की कला जरूर सीखें।
  • किसी भी प्रकार का तनाव व दबाव में होने पर साथी समूह से चर्चा करें।
  • मानसिक तनाव व दबाव होने पर चिकित्सक का परामर्श लें, और नशे से दूर रहें।

नशे की लत का इलाज कैसे किया जा सकता है ?

  • मनोचिकित्सक के परामर्श से रोगी की नशे की लत छुड़ाई जा सकती है। दवाइयों के माध्यम से रोगी की नशे की शारीरिक निर्भरता को धीरे-धीरे कम कर समाप्त किया जाता है। 
  • इसके साथ ही विभिन्न मनोवैज्ञानिक विधियों और बेस्ट साइकेट्रिस्ट लुधियाना की मदद से उसकी नशे के प्रति मानसिक निर्भरता को दूर किया जा सकता है। तो वही रोगी को भविष्य में नशे से दूर रहने के लिए प्रेरित किया जाता है। रोगी ही नहीं उसके परिवार वालों व आसपास के समाज को भी जागरूक किया जाता है। जिससे नशा छोड़कर वह परिवार व समाज में वापस लौट सकें।

अगर आप भी अत्यधिक नशे की वजह से मानसिक रूप से परेशान हो चुके है तो इससे निजात पाने के लिए मानस हॉस्पिटल का चयन जरूर से करें क्युकि इस हॉस्पिटल में डॉक्टर्स काफी अच्छे से व्यक्ति का इलाज करते है और साथ ही वो मानसिक रूप से परेशान होने की वजह से जो नशे में फस जाते है उन लोगों को बहुत आसानी से बाहर निकलवाने में काफी माहिर है।

निष्कर्ष :

नशे की लत से हम कैसे खुद को बाहर निकालने में समर्थ हो सकते है इसके बारे में हम उपरोक्त आपको बता है चुके है इसके अलावा इस समस्या से खुद को हमेशा के लिए बाहर निकालने के लिए आपको नशा मुक्ति केंद्र का चयन करना चाहिए।