Blog


घबराहट-से-पड़ने-वाले-दौरों-से-कैसे-करें-खुद-का-बचाव

जानिए घबराहट के दौरे से पड़ने वाले लक्षण व बचाव के तरीके ?

July 7, 2023

868 Views

 घबराहट या ज्यादा चिंतन की वजह से व्यक्ति कई बार काफी गहरी परेशानियों में घिर जाता है, जिसके चलते अगर उसके सामने किसी भी तरह की बात आ जाए तो उसके पैर हाथ कांपने लगते है, पसीना आने लगता है और कई बार व्यक्ति की स्थिति इतनी गंभीर हो जाती है की उसे महसूस हो रहा होता है कि मानो वह अपना नियंत्रण ही खो बैठा हो। वही इस तरह की समस्या व्यक्ति को क्यों होती है इसके बारे में हम आज के आर्टिकल में बात करेंगे, ताकि आप ये लेख अगर पढ़े तो आपको आपकी परेशानी का हल मिल सके ;

घबराहट के दौरे पड़ने के कारण क्या है ?

  • अज्ञात चीजों या बातों का भय, तनावपूर्ण स्थिति में व्यक्ति के अंदर घबराहट सामान्य प्रतिक्रिया है, जैसे नौकरी के लिए इंटरव्यू या परीक्षा के दौरान घबराहट महसूस करना आम बात है. तो वही कुछ लोगों में घबराहट का जोखिम ज्यादा होता है।
  • इसके अलावा घबराहट के दौरे पड़ने के कुछ कारण, लोगों के अंदर हमेशा विचार का चलते रहना है, वही ऐसे लोग मानसिक रूप से खुद को शांत महसूस नहीं कर पाते, और तो और इनका मूड भी लगातार बदलता रहता है।

घबराहट के दौरे को कृपया नज़रअंदाज़ न करें बल्कि समय रहते पंजाब में मानसिक रोग विशेषज्ञ की सलाह ले।

घबराहट के दौरे की शुरुआत कैसे होती है ?

  • आप में से तक़रीबन लोगों ने पैनिक अटैक के बारे में तो सुना ही होगा। या हो सकता है की कई दफा हमने देखा हो कि कोई व्यक्ति इसका शिकार कैसे होता है या हो सकता है कि ऐसा हमारे साथ भी कभी हुआ हो।
  • वही बहुत से लोग जो चिंता का अनुभव करते है, उन्हें पैनिक अटैक या घबराहट के दौरे का अनुभव भी हो सकता है।

अगर आपमें भी घबराहट की शुरुआत उपरोक्त तरीके से हो रहीं है तो इसके लिए आपको लुधियाना में बेस्ट साइकेट्रिस्ट का चयन करना चाहिए।

घबराहट के दौरान पड़ने वाले दौरे के लक्षण क्या है ?

  • तेजी से दिल का धड़कना।
  • छाती में जकड़न की समस्या का महसूस करना।
  • सांस फूलने की समस्या का सामना करना।
  • चक्कर आना।
  • बार-बार पसीने का आना।
  • बिना किसी बड़ी बात के डर का लगना।
  • खुद का नियंत्रण से बाहर होना।
  • दिमाग में गलत विचारों का आना आदि।

घबराहट के दौरान पड़ने वाले दौरे से कैसे करें खुद का बचाव ?

  • इस समस्या से बचने के लिए आपको सबसे पहले सुबह के वक़्त टहलना चाहिए।
  • घबराहट होने पर ध्यान और योग का सहारा जरूर लें।
  • घबराहट महसूस होने पर धीरे-धीरे सांस लें, और उन बातों को ना सोचे जिससे आपका तनाव बढ़ता हो।
  • वही ध्यान भटकाने के लिए संगीत, फिल्म, अच्छी किताबें पढ़े या स्वस्थ आहार का सहारा लें।
  • पर्याप्त नींद लें, अगर आप ठीक से नहीं सो पा रहे हैं तो अपने डॉक्टर से जरूर मिले।
  • इसके अलावा कैफिन का सेवन कम करें, सिगरेट पीना छोड़ें। क्युकि निकोटिन और कैफीन दोनों से ही घबराहट के लक्षण बढ़ सकते है।

अगर आप भी इस तरह की समस्या से निजात पाना चाहते है तो इसके लिए आपको मानस हॉस्पिटल के बेस्ट साइकेट्रिस्ट से जरूर सलाह लेना चाहिए और किसी भी तरह के तरीके को अपनाने से पहले एक बार यहाँ के अनुभवी साइकेट्रिस्ट से जरूर बात करें।